UPSC Kya Hai

Updated : Jun 17, 2019 in Student Career Guidance in Hindi

UPSC Exam Syllabus Pre & Mains हिंदी में

UPSC Syllabus Detail In Hindi

UPSC की फुल फॉर्म Union Public Service commission है | 
UPSC एक आयोग है जैसे की SSC, RRB etc है। UPSC पुरे भारत में उच्च पदों (IAS , IPS , IFS etc ) पर नियुक्ति के लिये Exam Conduct करवाती है। UPSC द्वारा भरे गये ज्यादातर पद Group A और B के होते है। UPSC के द्वारा Civil Services , इंजीनियरिंग सर्विस , Defence Service सहित अन्य उच्च पदों पर नियुक्ति की जाती है। इसका Exam साल में एक बार होता है जो की मई – जून में आयोजित किया जाता है। इस exam की तैयारी कर रहे छात्र इसके फॉर्म भरने की तिथि के लिये प्रतीक्षारत रहते है।

UPSC के EXAM का Syllabus बहुत बड़ा और टफ होता है। बहुत से लोगों को तो इसका Syllabus समझने में ही लंबा Time लग जाता है। मैं आज आपको इस Article में एकदम आसान और सरल (Easy Way ) शब्दों में UPSC का पुरा Syllabus बताऊंगा , जिससे की आपको लाभ हो और आप अच्छे से तैयारी कर सकें।

UPSC की परीक्षा के तीन चरण है –

1. Pre Exam and CSAT

2. Mains Exam

3. Interview

1. प्रारंभिक परीक्षा (Pre Exam )

पहले पीटी की बात करते है तो इसमें 200 नंबर के दो पेपर होते है , इसके दुसरे पेपर को सिसेट कहा जाता है जो बस Qualifying Nature का होता है।इसमे पुछे जाने वाले प्रश्न Objective होते है जिसमें प्रत्येक प्रश्न के लिये चार विकल्प दिये जाते है।

पेपर 1

इसमे 200 नंबर के इतने ही प्रश्न होते है जिसक लिये 2 घंटे का समय दिया जाता है। इस पेपर में ज्यादातर प्रश्न सामान्य अध्यन (General Studies ) के होते है।

जिसमें History , Geography , polity के साथ ही Sciences और Current Affairs के भी प्रश्न पुछे जाते है।

Syllabus for GS Paper (Prelims Paper I)

Current events of national and international importance.
History of India and Indian National Movement.
Indian and World Geography-Physical,
Social, Economic Geography of India and the World.
Indian Polity and Governance – Constitution,
Political System, Panchayati Raj,
Public Policy, Rights Issues, etc.Economic and Social Development – Sustainable Development, Poverty, Inclusion, Demographics, Social Sector initiatives, इत्यादि
General issues on Environmental Ecology, Biodiversity and Climate Change – that do not require subject specialisation General Science

पेपर 2

इस पेपर को सिसेट कहते है जो की Qualifying Nature का होता है। इसमे 200 नंबर के 200 प्रश्न पूछे जाते है। इसमे आपको बस 33% नंबर ही लाने होते है, इस पेपर का नंबर मेरिट लिस्ट तैयार करने में नहीं जोड़ा जाता है। इस पेपर में Maths , Reasoning और GS के प्रश्न जो की SSC और रेलवे में होते है वो पुछे जाते है।इन दोनों पेपर में नेगेटिव मार्किंग भी होता है।

Syllabus for CSAT Paper

Comprehension, Interpersonal skills including communication skills Logical reasoning and analytical ability Decision-making and problem solving General mental ability Basic numeracy (numbers and their relations, orders of magnitude, etc.) (Class X level), Data interpretation (charts, graphs, tables, data sufficiency etc. – Class X level)

2. मुख्य परीक्षा (Mains Exam)

Pre निकालने के बाद ही आपको mains में बैठने दिया जाता है। Mains में दो Qualifying Nature के पेपर होते है और इसके अलावे 7 पेपर होते है जो की 1750 नंबर के होते है।मुख्य परीक्षा लिखित (written ) होता है।

Qualifying Papers :

Paper-A

(कोई एक भारतीय भाषा को चुनना है जो की संविधान के 8वीं अनुसूची में हो )

300 Marks

Paper-B

English 300 Marks

ऊपर के ये दोनों पेपर बस Qualifying Papers है इनको मेरिट लिस्ट में count नहीं किया जाता है। अब जो नीचे के पेपर है उसे मेरिट लिस्ट बनाने में count किया जाता है , जिसमें 1750 नंबर के कुल 7 पेपर है।

Papers to be counted for merit

Paper-I

Essay 250 Marks

Paper-II

General Studies-I
250 Marks

(Indian Heritage and Culture,History and

Geography of the World and Society)

Paper-III

General Studies -II
250 Marks

(Governance, Constitution, Polity,

Social Justice and International relations)

Paper-IV

General Studies -III
250 Marks

(Technology, Economic Development,

Bio-diversity, Environment, Security

and Disaster Management)

Paper-V

General Studies -IV
250 Marks

(Ethics, Integrity and Aptitude)

Paper-VI

Optional Subject- Paper 1
250 Marks

Paper-VII

Optional Subject -Paper 2
250Marks

Sub Total(Written test)
1750 Mark

अगर आप ऊपर के दोनों Pre और Mains निकाल लेते है तो फिर Interview के लिये बुलाया जाता है। Interview Total 275 Marks का होता है जिसका गणना मेरिट लिस्ट बनाने के लिये किया जाता है।

Pre के 200 नंबर , Mains के 1750 नंबर और Interview के 275 नंबर को मिलाकर अंत में कुल 2225 नंबर पर मेरिट लिस्ट तैयार किया जाता है। अगर धैर्य के साथ जमकर मेहनत किया जाए तो UPSC में सफलता प्राप्त किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

%d bloggers like this: